Loktantra kya hai: यह तो आपने सुना ही होगा की भारत दुनिया का सबसे बड़ा लोकतांत्रिक देश है. लेकिन जब आपसे यह पूछ दे की Loktantra kya hai? या लोकतंत्र से आप क्या समझते हैं? तो आपके पास सही जवाब नहीं होता है. यही सवाल कई तरह के परीक्षाओं में भी पूछा जा सकता है. तो इस वजह से इस पोस्ट में हम आपको विस्तार से लोकतंत्र क्या है और लोकतंत्र कितने प्रकार का होता है के बारे में पूरी जानकारी देंगे.

लोकतंत्र को अंग्रेजी में डेमोक्रेसी (Democracy) कहा जाता है. यह राजनीति विज्ञान से जुड़ा शब्द है. डेमोक्रेसी एक ग्रीक शब्द है जो की दो शब्दों से मिलकर बना हुआ है, Demo+Cracy. यहाँ पर डेमो (Demo) का अर्थ है लोग तथा क्रेसी (Cracy) का अर्थ है, शासन. ठीक उसी तरह हिंदी में लोक का अर्थ है “लोग” तथा तंत्र का अर्थ है “शासन व्यवस्था”. इस तरह दोनों शब्दों को मिलाकर आप यह समझ सकते हैं की लोकतंत्र, लोगों का शासन है. आइये अब हम लोकतंत्र की परिभाषा पर नजर डालते हैं.

Loktantra kya hai, democracy kya hai, loktantra kya hota hai, लोकतंत्र क्या है

लोकतंत्र क्या है? लोकतंत्र से आप क्या समझते हैं? | लोकतंत्र की परिभाषा | Loktantra kya hai? | Loktantra kise kahate hain?

लोकतंत्र (Democracy) एक ग्रीक शब्द से आता है जिसका अर्थ है “लोगों का शासन“. लोकतंत्र सरकार की एक प्रणाली है, जहां सर्वोच्च शक्ति लोगों के हाथों में होती है, जो सीधे अपनी शक्तियों का प्रयोग करते हैं, या लोगों के एक समूह के माध्यम से जो एक स्वतंत्र चुनावी प्रक्रिया के आधार पर लोगों का प्रतिनिधित्व करने के लिए चुने जाते हैं।

लोकतंत्र का दूसरा नाम प्रजातंत्र है, यह एक ऐसी शासन प्रणाली है जिसमें लोग शासन करने के लिए अपना प्रतिनिधि खुद चुनते हैं. लोगों द्वारा चुना गया प्रतिनिधि लोगों के लिए उन्हीं के हित में कार्य करता है. इसमें लोगों को अपने फैसलें लेने तथा सुनाने का पूर्ण अधिकार होता है. यदि लोकतंत्र की परिभाषा की बात की जाय तो अलग अलग विशेषज्ञों द्वारा लोकतंत्र की अलग अलग परिभाषाएं दी गई हैं. तो आइये उसपर नजर डालते हैं.

लोकतंत्र की परिभाषा क्या है? | Loktantra ki Paribhasha

अमेरिका के भूतपूर्व राष्ट्रपति अब्राहम लिंकन द्वारा लोकतंत्र को “जनता का, जनता के लिए, जनता द्वारा शासन है” के रूप में परिभाषित किया गया है. वर्तमान समय में, सरकार की लोकतांत्रिक प्रणाली सभी समाजों में सरकार की पसंदीदा प्रणाली बन गई है. लोकतंत्र की अवधारणा इसके उपयोग के स्थान, समय और परिस्थितियों के अनुसार बदलती रहती है। कुछ विशेषज्ञों द्वारा लोकतंत्र को निम्नलिखित रूपों में परिभाषित किया गया है.

लोकतंत्र का मतलब लोगों द्वारा स्वयं शासन करना है, और यह अल्पसंख्यकों के शासन का खंडन करता है। किसी भी लोकतांत्रिक शहर को निम्नलिखित मानदंडों को पूरा करना चाहिए:

1.प्रतिनिधि सभा के लिए शहर के मामलों की अधीनता।

2.सभी पुरुष नागरिकों की इससे संबद्धता।

3. निर्णय लेने की प्रक्रिया अधिकांश लोगों के वोट पर आधारित होती है।

जिम किलकुलन (Jim Kilcullen)

एंड्रयू ने समझाया कि लोकतंत्र के कई रूप हैं, और इसे सरकार और लोगों के बीच प्रभावी भागीदारी और देश के सामान्य हित को प्राप्त करने के लिए उनके सहयोग के रूप में परिभाषित किया.

एंड्रयू हेवुड (Andrew Heywood)

लोकतंत्र समाज का पूर्ण संप्रभु अधिकार है।

डॉ जॉन हर्स्ट

लोकतंत्र एक संस्थागत प्रणाली है जिसका उद्देश्य व्यक्तियों को वोट के आधार पर राजनीतिक निर्णय लेने में सक्षम बनाना है।

जोसेफ शुम्पीटर

लोकतंत्र कितने प्रकार के होते हैं? | Loktantra ke prakar

लोकतंत्र के दो मुख्य प्रकार हैं, जो इस प्रकार हैं:

प्रत्यक्ष लोकतंत्र या विशुद्ध लोकतंत्र

प्रत्यक्ष लोकतंत्र लोकतंत्र के प्रकारों में से एक है जिसमें लोग किसी भी राजनीतिक निर्णय पर प्रत्यक्ष रूप से उनके प्रतिनिधियों की आवश्यकता के बिना भाग लेते हैं. और सरकार द्वारा जारी किए गए किसी भी निर्णय को नागरिकों को प्रस्तुत करने के बाद ही लिया जाता है. उदाहरण के लिए यदि टैक्स को बढ़ाने का मुद्दा लिया जाय, तो राज्य को लोकप्रिय समर्थन के बिना अपना टैक्स बढ़ाने का अधिकार नहीं है, और नागरिक उन मुद्दों को उठा सकते हैं.

वर्तमान में स्विट्ज़रलैंड में प्रत्यक्ष लोकतंत्र व्यवस्था है. प्रत्यक्ष लोकतंत्र छोटे देशों में लागू किया जा सकता है, जिनमें कम जनसंख्या घनत्व और कम अज्ञानता हो. स्विट्जरलैंड उन देशों में से एक है जहां लोग दिनों में इकट्ठा होते हैं, उन्हें उनके हित के मुद्दों को प्रस्तुत किया जाता है और इस संबंध में विशेष दलों द्वारा सामने रखा जाता है।

अप्रत्यक्ष या प्रतिनिधि सत्तात्मक लोकतंत्र

अप्रत्यक्ष लोकतंत्र दुनिया भर में सबसे अधिक प्रचलित है, और इस प्रकार में व्यक्तियों का एक समूह संसद में लोगों का प्रतिनिधित्व करने के लिए मतदान करता है. जहां निर्वाचित व्यक्तियों के द्वारा निर्णय लिया जाता है. इस प्रकार यह बहुसंख्यक लोगों के अधिकारों की रक्षा करता है, और उच्च क्षमता वाले व्यक्ति को चुनने का अवसर प्रदान करके अल्पसंख्यकों के अधिकारों की रक्षा करने में मदद करता है.

लोकतंत्र के फायदे | Loktantra ke Fayde

सरकार की लोकतांत्रिक प्रणाली को लागू करने वाली समाजों के कई फायदे हैं, जिनमें से सबसे महत्वपूर्ण हैं:

अच्छे नागरिकों को तैयार करना: लोकतंत्र एक आदर्श राजनीतिक प्रणाली है, जिसका उद्देश्य एक आदर्श वातावरण प्रदान करके अच्छे नागरिकों को तैयार करना है जो अच्छे गुणों को प्राप्त करने, एक सकारात्मक व्यक्तित्व विकसित करने में मदद करता है, और व्यक्तियों को उनके पूर्ण अधिकारों और कर्तव्यों को जानने के लिए पर्याप्त जगह के साथ एक लोकतांत्रिक प्रणाली प्रदान करता है।

नागरिकों के हितों की रक्षा करना: नागरिकों का यह विश्वास होता है की जिनका वे सरकार में प्रतिनिधित्व करेंगे, विभिन्न मुद्दों पर, चाहे राजनीतिक, आर्थिक या सामाजिक, उनके हित में निर्णय ली जाएगी।

समानता: लोकतांत्रिक राज्य अपने सभी नागरिकों के साथ समान व्यवहार करता है, उन्हें अपने राजनीतिक, आर्थिक और सामाजिक अधिकारों की गारंटी देता है. कानून के सामने न्याय और समानता प्राप्त करता है, और विभिन्न धर्म, वर्ग, लिंग या अन्य मामलों के कारण व्यक्तियों के बीच भेदभाव को रोकता है।

सत्ता के एकाधिकार को रोकना: सरकार एक निश्चित अवधि के भीतर अपने अधिकार का अभ्यास करती है. इससे वह यह सुनिश्चित करती है कि सरकारी नीतियां लोगों के हित में हों।

परिवर्तन को बढ़ावा देना: लोकतांत्रिक प्रणाली नागरिकों को सरकारों के चुनाव में भाग लेने और उन्हें बदलने के चरण तक पहुंचने में मदद करती है।

लोगों की राजनीतिक जागरूकता का विकास: जब चुनाव आयोजित किए जाते हैं, तो उम्मीदवार और राजनीतिक दल नागरिकों का समर्थन जीतने के लिए संचार के विभिन्न साधनों के माध्यम से प्रकाशित कार्यक्रमों और नीतियों का प्रस्ताव करते हैं, जिससे उनकी राजनीतिक जागरूकता बढ़ जाती है।

ये भी पढ़ें:

लोकतंत्र से जुड़े अन्य सवाल [FAQs]

लोकतंत्र क्या होता है? | Loktantra kya hota hai? [Video]

अन्तिम शब्द,

आज इस पोस्ट में आपने सीखा की लोकतंत्र क्या है? (Loktantra kya hai), लोकतंत्र की परिभाषा तथा लोकतंत्र कितने प्रकार के होते हैं. आशा करता हूँ आपको इस पोस्ट से मदद मिली होगी. यदि आपको यह पोस्ट पसंद आई हो तो इसे अन्य लोगों के साथ भी जरुर शेयर करें. साथ ही यदि आपके मन में कोई सवाल हो तो हमें कमेंट करके बताएं.